प्रशिक्षार्थी हेतु निर्देश -

  1. योग्यता हाईस्कूल/पंजीकृत चिकित्सक/स्वास्थ्य कर्मी व अन्य रजिस्टर्ड चिकित्सक को प्रवेश हेतु प्रथम वरीयता दी जायेगी |
  2. कृपया एप्लीकेशन फार्म को पूरी तरह से भरें | फार्म मे मांगी जा रही आवश्यक जानकारी का सही विवरण दें|
  3. प्रशिक्षार्थी नामांकन के समय हाईस्कूल, का (अंकपत्र, सनद) आधारकार्ड, व पहचान पत्र की स्वप्रमाणित छायप्रति जमा करें व चार पासपोर्ट साइज कलर फोटो भी जमा करना होगा |
  4. रजिस्ट्रेशन कराये हुए प्रशिक्षार्थियों के प्रवेश हेतु संस्थान द्वारा प्रवेश परीक्षा भी करायी जा सकती है|
  5. प्रशिक्षार्थी द्वारा किसी भी प्रकार की गलत सूचना देने पर उसका नामांकन निरस्त कर दिया जायेगा और संस्थान द्वारा उसके विरुद्ध वैधानिक कार्यवाही भी की जा सकती है जिसके लिए वह स्वयं जिम्मेदार होगा |
  6. किसी भी कारणवश संस्थान द्वारा नामांकन निरस्त करने पर या प्रशिक्षार्थी द्वारा स्वयं नामांकन निरस्त करने पर किसी भी प्रकार से फीस वापसी नहीं होगी |
  7. प्रशिक्षण के दौरान किसी भी प्रकार का वजीफ़ा देय नहीं है |
  8. प्रशिक्षार्थियों का प्रशिक्षण पूर्णतया हिंदी माध्यम में है |
  9. नामांकित प्रशिक्षार्थी को संस्थान द्वारा प्रत्येक माह नोट्स बनाकर दिया जायेगा |
  10. प्रशिक्षार्थी द्वारा किन्ही कारणों से तीन माह तक फीस जमा न होने पर प्रशिक्षार्थी का नामांकन स्वत: निरस्त हो जायेगा|
  11. संस्थान मे प्रशिक्षार्थी द्वारा दिये गये मोबाईल न० पर सूचना भेजी जाएगी | यदि प्रशिक्षार्थी किसी भी कारण से अपना रजिस्टर्ड मो० न० बदलता है | तो उसकी लिखित सूचना संस्थान को देना व नया मोबाईल न० संस्थान मे रजिस्टर्ड करवाना अनिवार्य होगा |
  12. संस्थान द्वारा दिये गये दिशा-निर्देशों का पालन न करने पर प्रशिक्षार्थी का नामांकन रद्द किया जा सकता है|
CMS&ED प्रशिक्षण के दौरान Anatomy & Physiology, Pathology, Pharmacology, Public Health- Epidemiology, First Aid, Communicable Disease तथा अन्य विषयों के साथ W.H.O. द्वारा अनुमोदित Allopathic Medicine का भी प्रशिक्षण दिया जायेगा | CMS&ED कोर्स करने के पश्चात प्रशिक्षार्थी W.H.O. द्वारा निर्धारित एलोपैथिक दवाओं से प्राथमिक चिकित्सा करने हेतु अधिकृत होगा |

आदेशानुसार
उपनिदेशक
ग्रामीण स्वास्थ्य प्रेरक प्रशिक्षण संस्थान, लखनऊ (उत्तर प्रदेश )